Online Chhattisgarh

  2017-06-12

बिलासपुर में दो घंटे रोकी गई आधा दर्जन ट्रेनें

OnlineCG बिलासपुर। रविवार को जोनल स्टेशन के रिले रूम में चूहों की वजह से तार में शार्ट सर्किट हो गया। इस कारण रेल ट्रैफिक कंट्रोल करने वाला आरआरआई केबिन का पैनल बोर्ड सुबह 5.40 बजे ठप हो गया। करीब दो घंटे की जद्दोजहद के बाद स्थिति कुछ सामान्य हो पाई। इस बीच आधा दर्जन ट्रेनों को स्टेशन व यार्ड में रोककर रखा गया। आपको बता दें कि आरआरआई पैनल के द्वारा ही रेल ट्रैफिक को कंट्रोल किया जाता है। इसे स्टेशन का हार्ट भी कहा जाता है। इसमें जरा भी खराबी ट्रेनों का मूवमेंट रोक देती है। रविवार की सुबह जोनल स्टेशन में भी यही हुआ। ड्यूटी में तैनात कर्मचारी पैनल बोर्ड के सहारे ट्रेनों का परिचालन कर रहे थे। इसी बीच अचानक बोर्ड बंद हो गया। इससे रेल कर्मचारी सकते में आ गए। उन्होंने तत्काल इसकी सूचना अधिकारियों को दी। साथ ही सुधार दल को बुलाया गया। आनन-फानन में सभी आरआरआई केबिन पहुंचे। जांच के दौरान बोर्ड में कोई गड़बड़ी नहीं मिली। लिहाजा सभी पैनल बोर्ड के ठीक नीचे स्थित रिले रूम पहुंचे। यह रूम काफी बड़ा है। सभी फाल्ट का पता लगाने लगे। तभी उनकी नजर शार्ट सर्किट पर पड़ी। तार के पास दो चूहे मरे पड़े थे। चूहों के कारण ही शार्ट सर्किट होने की बात कही जा रही है। इसके बाद अमला सुधार करने में जुट गया। करीब 6.35 बजे अस्थाई व्यवस्था कर कुछ ट्रेनों को गंतव्य के लिए रवाना किया। इसके बाद दोबारा ब्लॉक लेकर काम जारी रखा गया। सुबह 7.55 बजे पैनल बोर्ड चालू हुआ। इसके बाद ही ट्रेनों का परिचालन सामान्य हो पाया।

You Might Also Like