Online Chhattisgarh

Pooja Sharma   2017-12-29

विश्वानथन आनंद ने फिर नंबर-1 का ताज किया अपने नाम

OnlineIndiaडेस्क। भारतीय शतरंज चैंपियन विश्वनाथन आनंद ने रियाद में खेले गए वर्ल्ड रैपिड चेस चैंपियनशिप का खिताब फिर एक बार अपने नाम कर लिया है। यह मुकाबला विश्वनाथन आनंद और नार्वे के मैग्रस कार्लसन के बीच हुआ था। आपको बता दें कि मैग्रस कार्लसन ने साल 2013 में आनंद को मात देते हुए उनसे नंबर-का ताज छीनकर अपने नाम कर लिया था। उसी को ध्यान में रखते हुए आनंद ने अपनी हार का बदला चार साल बाद लिया है।
विश्वनाथन आनंद और मैग्रस कार्लसन के बीच फाइनल मुकाबला राउंड तक चला। काली मुहरों के साथ खेल की शुरुआत करने वाले आनंद शुरुआत से ही आक्रमक नजर आए। जिसका उन्हें फायदा भी मिला। वे जल्द ही कार्लसन पर मानसिक बढ़त लेने में कामयाब रहे। दोनों के बीच खिताबी भिड़ंत 34 चालों तक चला। टूर्नामेंट के मुकाबलों में आनंद का सफर बिना किसी हार के संपन्न हुआ। इन मुकाबलों में से आनंद मुकाबले जीतने में कामयाब रहेवहीं मुकाबले ड्रॉ भी रहे हैं। कार्लसन से आनंद ने रूस के व्लादमीर फेडोसीव के साथ ड्रॉ खेला था। जग जाहिर है कि मैग्रस कार्लसन को विश्वनाथन आनंद का कड़ा प्रतिद्वंद्वी माना जाता है।

आनंद की जीत पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें बधाई दी है। राष्ट्रपति ने ट्विटर पर बधाई संदेश लिखा कि विश्व रैपिड शतरंज चैंपियनशिप जीतने के लिए विश्वनाथन आनंद को बधाई। दशकों में आप हम सबके लिए प्रेरणादायी रहे हो। भारत को आप पर गर्व है। इस जीत से विश्वनाथन आनंद ने अपने आलोचकों को करारा जवाब दिया है।

You Might Also Like