Online Chhattisgarh

OnlineIndia   2018-01-14

अध्यापक अधिकार यात्रा पर महिला अध्यापिकाओं ने मुंडवाए अपने सिर

OnlineIndiaभोपाल। मध्यप्रदेश में शनिवार को टीचरों ने विरोध का अनूठा तरीका अपनाया। राजधानी भोपाल में टीचरों ने अपने सिर मुंडवाए, जिसमें भारी संख्या में महिलाएं भी शामिल थीं। ऐसा उन्होंने अध्यापक अधिकार यात्रा में विरोध प्रदर्शन के दौरान किया। महिला टीचरों ने इस दौरान सिर मुंडवा कर राज्य सरकार का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने का प्रयास किया।

भोपाल में सभी शिक्षक 'अध्‍यापक अधिकार यात्रा' के तहत विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इन शिक्षकों की कई मांग हैं, जिनमें समान कार्य के लिए सभी शिक्षकों को समान वेतन और उचित ट्रांसफर पॉलिसी भी शामिल है। इससे पहले शिक्षा विभाग में संविलियन को लेकर प्रदेशभर में निकाली जा रही अध्यापक अधिकार यात्रा शुक्रवार की शाम को विदिशा पहुंची। इस दौरान शहर के मुख्य मार्गों से रैली निकाली गई और बाद में संघ के जिला संगठन मंत्री निरंजन सिंह कुशवाह ने मुंडन कराकर और संविलियन की मांग की। इस दौरान जिले के बड़ी संख्या में अध्यापक मौजूद रहे।

आजाद अध्यापक संघ के प्रांतीय महासचिव केशव रघुवंशी ने बताया कि शिक्षा विभाग में संविलियन की मांग सहित 13 मांगो को लेकर लंबे समय से अध्यापक आंदोलन करते आ रहे हैं। लेकिन सरकार ने मांगो पर ध्यान नहीं दिया, जिसके चलते 5 जनवरी से ओमकारेश्वर से अधिकार यात्रा शुरू की गई थी।

शनिवार को भोपाल के जंबूरी मैदान में हजारों की संख्या में अध्यापक एकत्रित हुए और सुबह 9 बजे से अधिकार यात्रा विदिशा से चलकर भोपाल पहुंची। जहां 100 से ज्यादा महिला अध्यापकों ने मुंडन कराया।

You Might Also Like