Online India

Pooja Sharma   2018-03-20

नौकरी के लिए छात्रों ने किया मुंबई में रेल पटरी पर प्रदर्शन, 30 ट्रेनें रद्द

OnlineIndia डेस्क। छात्रों ने रेलवे में नौकरी की मांग को लेकर मुंबई में प्रदर्शन शुरू कर दिया है। प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने माटुंगा और छत्रपति शिवाजी टर्मिनिल रेलवे स्टेशन के बीच रेलवे ट्रैक को जाम कर दिया है। छात्रों के प्रदर्शन पर राजनीति भी शुरू हो चुकी है। प्रदर्शनकारियों को कांग्रेस और एमएनएस का समर्थन मिला है।
छात्र रेलवे पटरियों पर बैठ गए हैं और अपनी मांगों पर अड़े हुए हैं। ट्रेनों का आवागमन बाधित हो रहा है और आम-जनजीवन प्रभावित हो रहा है इस वजह से लाखों यात्री परेशान हो रहे हैं। ऑफिस टाइम होने और सीएसटी-माटुंगा की लाइन पर ज्यादा ट्रैफिक होने से लोगों को भी परेशानी हो रही है। लोकल ट्रेनों के साथ ही लंबी दूरी की ट्रेनें भी प्रदर्शन के कारण लेट हो रही हैं। वहीं प्रदर्शनकारी छात्रों को रेल पटरियों से हटाने के लिए पुलिस मौके पर पहुंच रही है।
मध्य रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि छात्रों ने आज सुबह करीब सात बजे रेल पटरी को जाम कर दिया जिससे माटुंगा और सीएसएमटी के बीच उपनगरीय के साथ-साथ एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन भी प्रभावित हुआ है। अधिकारी ने बताया कि माटुंगा और सीएसएमटी के बीच सभी चार लाइनें प्रभावित हैं। पुलिस और रेलवे अधिकारी छात्रों के साथ बातचीत कर रहे हैं।
आपको बता दें कि प्रदर्शन के बाद सेंट्रल लाइन पर करीब 30 ट्रेनें रद्द हो गई हैं। रेलवे की ओर से यात्रियों के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है। (हेल्पलाइन नंबर - 23004000) प्रदर्शन के असर को देखते हुए कुर्ला इलाके में बेस्ट की अतिरिक्त बसें चलाई जाएंगी ताकि यात्रियों को अधिक परेशानियों का सामना ना करना पड़े।
प्रदर्शन में शामिल एक छात्र ने बताया, "पिछले चार वर्षों से कोई नियुक्ति नहीं हुई है। हम नौकरी पाने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं। 10 से ज्यादा छात्र आत्महत्या कर चुके हैं। हम ऐसे नहीं चलने देंगे।" एक अन्य स्टूडेंट ने कहा, "जब तक रेल मंत्री पियूष गोयल खुद आकर हमसे नहीं मिलते, हम यहां से नहीं हटेंगे। इससे पहले भी हम कई बार डीआरएम (डिविजनल रेलवे मैनेजर, मुंबई डिविजन) से रिक्वेस्ट कर चुके हैं, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ।"

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like