Online India

OnlineIndia   2018-03-22

संविधान निर्माता पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने से विवाद में फंसे हार्दिक पांड्या, केस दर्ज

OnlineIndia खेल। भारत के संविधान निर्माता बी. आर. अम्बेडकर पर टिप्पणी के मामले में भारतीय क्रिकेटर हार्दिक पांड्या मुश्किल में घिरते नजर आ रहे हैं। जोधपुर की एक अनुसूचित जाति-जनजाति अदालत ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। पांड्या के खिलाफ याचिका दाखिल करने वाले डी.आर. मेघवाल के मुताबिक पंड्या ने 26 दिसंबर, 2017 को अपने ट्विटर अकाउंट पर एक टिप्पणी लिखी थी, जिसमें उन्होंने बी. आर. अम्बेडकर को अपमानित किया था और दलित समुदाय के लोगों की भावनाओं को भी आहत किया था। 
मेघवाल के मुताबिक पांड्या ने ट्वीट किया था, 'कौन अम्बेडकर? वह व्यक्ति जिसने देश के संविधान का ड्राफ्ट तैयार किया या फिर वह जिसे देश को आरक्षण नाम की बीमारी दे दी। इस ट्वीट के बारे में कहा जा रहा है कि यह हार्दिक पंड्या के एक फर्जी ट्विटर अकाउंट से पोस्ट किया गया था।   

दरअसल हार्दिक पांड्या का असली ट्विटर हैंडल @hardikpandya7 है, जबकि कहा जा रहा है कि बाबा साहब अम्बेडकर पर जो कथित ट्वीट किया गया था, वो @sirhardik3777 नाम के ट्विटर हैंडल से किया गया था। कोर्ट के आदेश के मुताबिक मामला एससी/एसटी अत्याचार निवारण कानून के तहत दर्ज किया जाएगा। कोर्ट ने ये आदेश जोधपुर के मेघवाल की याचिका पर सुनाया है। उन्होंने पांड्या पर डॉक्टर अम्बेडकर का अपमान करने का आरोप लगाया था। हालांकि जब उनको ये बताया गया कि अम्बेडकर पर कथित ट्वीट को उनके फर्जी अकाउंट से किया गया था, उस पर मेघवाल का ये कहना था कि जो भी असामाजिक तत्व इसके पीछे है, उसे सजा मिलनी चाहिए।

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like