Online India

Pooja Sharma   2018-04-19

एटीएम ट्रांजेक्शन करने वाले ग्राहकों के लिए बुरी खबर, आरबीआई ने ट्रांजेक्शन की बढ़ाई फीस

OnlineIndia डेस्क। देश के कई राज्यों के एटीएम में कैश की समस्या से जूझ रहे लोगों को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने एक और बड़ा झटका दे दिया है। अब 5 बार से अधिक एटीएमट्रांजेक्शन करने वाले ग्राहकों को आगे चलकर 20 रुपए प्रति ट्रांजेक्शन खर्च करने होंगे।

आरबीआई ने बैंकों को नए नियमों और चार्ज को जुलाई तक लागू करने को कह दिया है। कैश वैन के लिए भी नए नियम बनाए गए हैं। इन नियमों के अनुसार कैश मैनेजमेंट कंपनियों के पास में कम से कम 300 कैश वैन, प्रत्येक कैश वैन में एक ड्राइवर, दो कस्टोडियन और दो बंदूकधारी गार्ड होने चाहिए ताकि कैश की सुरक्षा हो सके। वहीं हरेक कैश वैन में जीपीएस, लाइव मॉनेटरिंग के साथ भू मैपिंग और नजदीकी पुलिस स्टेशन का पता होना चाहिए ताकि इमरजेंसी के वक्त मदद ली जा सके। आरबीआई ने कहा है कि एटीएम का ऑपरेशन केवल वो ही व्यक्ति कर सकेगा, जिसने ट्रेनिंग के बाद सर्टिफिकेट हासिल किया हो। 

वर्तमान में सभी बैंकों द्वारा एटीएम पर होने वाले कैश ट्रांजेक्शन के लिए 15 रुपए और नॉन कैश ट्रांजेक्शन करने पर खाते से 5 रुपए काटे जाते हैं। आपको बता दें कि यह चार्ज हर महीने फ्री में मिलने वाले ट्रांजेक्शन के ऊपर लगता है। आरबीआई ने एटीएम पर होने वाले ट्रांजेक्शन के लिए काफी कड़े नियम बना दिए हैं, जिसके बाद एटीएम ऑपरेट करने वाले ट्रांजेक्शन चार्ज बढ़ाने की डिमांड कर रहे हैं। एटीएम इंडस्ट्री ने ट्रांजेक्शन पर 3-5 रुपए बढ़ाने की मांग की है, ताकि वो अपने खर्चों को पूरा कर सके। सीएटीएमआई के निदेशक के श्रीनिवासन ने कहा एटीएम ऑपरेटर्स के खर्चे पहले ही काफी बढ़ चुके हैं। 

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like