Online India

Roshan Bharti   2018-05-04

अगर आप भी जवां रहना चाहते हैं तो इस तेल से करें रोज मालिश

OnlineIndia डेस्क। आजकल की इस भागदौड़ भरी जिंदगी में खुद को मेंनेटेन रखना एक चैलेंज है। लगातार काम करने, स्ट्रेस और न्यूट्रीशन्स की कमी के चलते लोगों की त्वचा मुरझा जाती है। खासतौर पर चेहरे की त्वचा बिल्कुल बेजान लगती है। इस पर झुर्रियां पड़ जाती है। जिसके चलते लोग उम्र से पहले ही बूढ़े दिखने लगते हैं। लेकिन कहते हैं ना हर समस्या का कोई ना कोई समाधान होता है। आज हम आपको एक ऐसे जादुई तेल के बारे में बताएंगे। जिसकी रोजाना मालिश से आप पहले से भी ज्यादा जवां दिखने लगेंगे।  

त्वचा की खोई हुई चमक वापस लाने का सबसे अच्छा उपाय लौंग तेल की मालिश है। लौंग में एंटी—बैक्टीरियल एवं एंटी—फंगल गुण पाएं जाते हैं। इससे रोजाना रात को सोत समय चेहरे पर मालिश करने से स्किन चमकदार हो जाती है। ये चेहरे पर जमी डेड स्किन को हटाकर नई त्वचा बनाने में मदद करता है। इससे चेहरे के टिशूज हेल्दी रहते हैं। जिससे झुर्रिरयां खत्म होने लगती है। इसमें एंटी एजिंग तत्व भी होता है। जिसके चलते ये बुढ़ापे के असर को कम करता है।

लौंग का तेल मुंहासों को ठीक करने में भी बहुत असरदार है। रात को सोने से पहले चेहरे को अच्छे से साफ करने के बाद इसमें दो से तीन बूंद लौंग का तेल लगा लें। इसे रात-भर रहने दें और सुबह चेहरा साफ पानी से धो लें। एक सप्ताह में समस्या दूर हो जाएगी। हालांकि इसका प्रयोग करने से पहले इसे अपनी स्किन पर टेस्ट कर लें। क्योंकि शुरुआत में ये इरिटेशन लाता है, लेकिन बाद में ठीक हो जाता है। अगर आपके इरिटेशन बनी रहें तो इसका इस्तेमाल न करें।

चेहरे की चमक बढ़ाने के लिए भी लौंग का तेल बहुत फायदेमंद साबित होता है। ये बेजान त्वचा को हटाने में मदद करता है। इसके रोजाना 5 मिनट तक चेहरे एवं गर्दन पर मसाज करने से पोरस में छिपी गंदगी दूर हो जाती है। साथ ही इसमें मौजूद पोषक तत्व त्वचा में मिलकर इसे स्वास्थ्य बनाता है।

लौंग का तेल चेहरे को हाइड्रेड रखने का भी काम करता है। इसके मालिश से स्किन का पीएच लेवल बैलेंस रहता है। ये त्वचा में जरूरत के अनुसार नमी बनाए रखता है। इस तेल से मालिश करने से खून का प्रवाह भी सही हो जाता है। इसमें मौजूद पोषक तत्व त्वचा को गर्माहट देते हैं, जिससे पूरे चेहरे की नसें खुल जाती हैं। उनमें ब्ल्ड का सर्कुलेशन अच्छे से होता है। लौंग में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं। जिसकी वजह से ये फंगस, बैक्टीरिया आदि से बचाता है। सर्दी—जुकाम होने पर इसके तेल की दो बूंदे नाक में डालने व इससे मसाज करने पर बंद नाक खुल जाती है।

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like