Online India

Pooja Sharma   2018-05-14

निजी जांच एजेंसी का खुलासा: श्रीदेवी की मौत महज हादसा नहीं बल्कि सोची समझी साजिश थी

OnlineIndia मनोरंजन। दिल्ली पुलिस के पूर्व एसीपी व उनकी निजी जांच एजेंसी ने दावा किया है कि बॉलीवुड अदाकारा श्रीदेवी की मौत महज हादसा भर नहीं थी। बल्कि वह सोची समझी साजिश का शिकार हुई थी। पुलिस सॉल्युशन इंडिया नामक निजी जांच एजेंसी ने दुबई के होटल जुमेराह एमिरेट्स टावर्स में जाकर छानबीन के बाद यह बात रविवार को एक प्रेसवार्ता में बताई। जांच एजेंसी के प्रमुख पूर्व एसीपी वेद भूषण ने दावा किया है कि श्रीदेवी की मौत की जांच बहुत ही लापरवाही से कर जल्द ही दुबई पुलिस निष्कर्ष पर पहुंच गई। इसके पीछे क्या वजह थी और क्या श्रीदेवी की हत्या की गई इस पर जांच एजेंसी ने खुलकर कुछ भी नहीं बोला।

वेद भूषण का कहना है कि श्रीदेवी देश की बड़ी अदाकारा थी। इसलिए, उनकी मौत के रहस्य से पर्दा उठाना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि जल्द ही मामले की दोबारा जांच के लिए उनकी जांच एजेंसी सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करने वाली है।

पूर्व एसीपी ने बताया कि 24 फरवरी, 2018 को एक शादी समारोह में हिस्सा लेने दुबई गई श्रीदेवी की रहस्यमय हालात में मौत हो गई थी। मौत के बाद तमाम तरह की अटकलें लगाई जाने लगी। किसी ने अधिक शराब पीने की बात की, किसी ने हार्ट अटैक की बात की। लेकिन, 26 फरवरी को दुबई की जांच एजेंसियों ने श्रीदेवी की मौत को हादसा बताते हुए नहाने के टब में डूबने से मौत की बात बताई। उन्होंने कहा कि उनकी जांच एजेंसी 'पुलिस सॉल्युशन इंडिया' की टीम दुबई के उसी होटल में जांच करने पहुंची। होटल जुमेराह एमिरेट्स टावर्स के 2201 नंबर के जिस कमरे में श्रीदेवी रुकी थी, उसके ठीक ऊपर वाले 2208 नंबर के कमरे में उनकी मौत का सीन रिक्रिएट किया गया। जिस टब में श्रीदेवी के डूबने की बात की जा रही थी, उसकी गहराई और लंबाई नापी गई।

उन्होंने खुलासा किया कि श्रीदेवी की लंबाई 5 फुट 6 इंच थी। लेकिन, जब टब की जांच गई तो पता चला कि जिस टब में श्रीदेवी के डूबने की बात की जा रही है, वहां वह किसी हादसे के दौरान गिरने से नहीं डूब सकती। सीन रिक्रिएट करने के लिए बकायदा उसी लंबाई की एक डमी का इंतजाम कर मौत के काल्पनिक दृश्य को दोहराया गया। यह सब करने के बाद ऐसा लगता है कि वह किसी साजिश का शिकार हुईं हैं। उनका दावा है कि अब तक जो पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पेश किए गए हैं, उनमें उनकी किसी शरीर के अंग का कोई जिक्र नहीं किया गया था। इस कारण कई रहस्य क्रिएट हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस सच से पर्दा उठाने के लिए जल्द ही सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करेंगे और सारी सच्चाई सामने लाने की कोशिश किया जाएगा।

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like