Online India

Pooja Sharma   2018-05-24

उत्तर कोरिया ने अमेरिकी उपराष्ट्रपति को बताया 'जाहिल', कहा- मीटिंग करनी है या परमाणु युद्ध?

OnlineIndia डेस्क। उत्तर कोरिया ने अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के साथ शिखर वार्ता के मुद्दे पर उत्तर कोरिया को चेतावनी देने के लिए अमेरिकी उपराष्ट्रपति माइक पेंस को 'जाहिल' करार दिया है। दरअसल, पेंस ने सोमवार को संवाददाताओं से बातचीत के दौरान उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन को आगाह करते हुए कहा था कि ट्रंप को आजमाना और उनके साथ खिलवाड़ करना भारी भूल होगी।
दरअसल पेंस ने इस सोमवार फॉक्स न्यूज को दिए इंटरव्यू में उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग उन को चेतावनी दी थी कि अगर उन्होंने डोनाल्ड ट्रंप के साथ सिंगापुर में अलगे महीने होने वाली शिखर बैठक से पहले कोई 'खेल' खेला, तो यह उनकी भारी भूल होगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि अगर किम जोंग उन ने समझौता नहीं किया, तो उनका भी हश्र लिबियाई तानाशाह मोअम्मर गद्दाफी जैसा होगा। आपको बता दें कि लीबिया में हुए जनांदोलन के दौरन गद्दाफी को लोगों ने मार डाला था।
पेंस की इन बातों से उत्तर कोरिया काफी भड़क गया। इसे लेकर उत्तर कोरिया की विदेश उपमंत्री ने बेहद सख्त लहजे में बयान जारी करते हुए पेंस को 'बेलगाम और गुस्ताख' बताया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वाशिंगटन यूं धमकियां देकर प्योंगयांग को बातचीत के लिए कभी राजी नहीं कर सकता।

चो ने कहा, 'हमने कभी अमेरिका से बातचीत की भीख नहीं मांगी और अगर वे हमारे साथ नहीं बैठना चाहते तो हम उन्हें मनाने की जहमत भी नहीं उठाएंगे। यह पूरी तरह से अमेरिका पर निर्भर करता है कि वे हमसे मीटिंग रूम में मिलेंगे या फिर परमाणु युद्ध में भिड़ना चाहेंगे।'

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like