Online India

Pooja Sharma   2018-05-24

मौसम ने बदला मिज़ाज: अंबिकापुर के मैनपाट में जमकर गिरे ओले

OnlineIndia रायपुर। धूल भरी आंधी और गरज-चमक के साथ फिर से बारिश होने की संभावना बन रही है। गरज-चमक के साथ बारिश की बौछारें भी पड़ सकती है। यदि आप लंबे सफ़र पर हैं तो अभी से सावधान हो सकते हैं। मौसम विभाग के नियमित रिपोर्ट की माने तो कल पूर्वी राजस्थान से लेकर गंगा की तराई वाले पश्चिम बंगाल तक बना द्रोणिका आज पूर्वी राजस्थान से लेकर झारखंड, मध्यप्रदेश तक विस्तृत हो गया है।

इस द्रोणिका के असर से भारी मात्रा में नमीयुक्त हवा प्रदेश तक पहुंच रहा है। यही वजह है कि राजधानी रायपुर सहित प्रदेश के उत्तरी और दक्षिणी भाग में अधिकतम तापमान का आंकड़ा अभी भी 45 डिग्री से नीचे चल रहा है। आज सबसे अधिक तापमान बिलासपुर में दर्ज किया गया, जहां अधिकतम तापमान का आंकड़ा 44 डिग्री तक पहुंच गया है। शेष प्रमुख शहरों में अंबिकापुर 39।2, पेण्ड्रारोड 42।1, जगदलपुर 33।9 तथा राजधानी रायपुर में 42।2 डिग्री अधिकतम तापमान रिकार्ड किया गया है।

मौसम वैज्ञानिकों की माने तो आने वाले चौबीस घंटों के दौरान मौसम मुख्यत: शुष्क बना रहेगा। इस दौरान प्रदेश के दक्षिणी भाग याने बस्तर संभाग के साथ ही राजधानी रायपुर और इसके आसपास के इलाकों में एक या दो स्थानों पर धूल भरी आंधी चलने, तेज गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे की संभावना है।

वहीं अंबिकापुर जिले के मैनपाट इलाके में गुरुवार को मौसम ने अचानक अपना मिजाज बदल दिया। दोपहर में अचानाक काले बादल छा गए और तेज हवा के साथ बारिश शुरू हो गई। मिली जानकारी के मुताबिक मैनपाट इलाके के कमलेश्वर, नर्मदापुर सहित पाट क्षेत्र में जमकर बारिश हुई और ओले भी गिरे।

क्षेत्र में खेत और खलिहान बारिश से लबालब हो गए। भीषण गर्मी में इतनी तेज बारिश और ओलावृष्टि के कारण तापमान में काफी गिरावट दर्ज की गई है, जिससे स्थानीय लोगों को काफी राहत मिली है।

 

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like