Online India

Pooja Sharma   2018-06-03

इस पेड़ पर दिखती है लटकती हुई लड़कियां!

OnlineIndia रहस्य। दुनिया में कई रहस्य हैं और उन्हीं में से एक है इस जंगल का रहस्य। यहां पेड़ों पर लड़कियां लटकी पाई जाती हैं। उनके बाल पेड़ की टहनियों से बंधे होते हैं और उनके बदन पर एक भी कपड़ा नहीं होता। इस जंगल की तस्वीरें देखकर किसी भी आम इंसान की रूह कांप उठेगी। गौर से देखने पर साफ होता है कि पेड़ से लटकी लड़कियां असली नहीं हैं। मगर लड़कियों की नग्न आकृति को पेड़ से इस तरह लटकाने के पीछे क्या मकसद है?

 

 

दरअसल, लड़कियों के आकार में यह विचित्र चीजें खुद पेड़ पर उगती हैं। ये थाईलैंड के हिमाफन जंगल में पाई जाती हैं। इस जंगल में विशेष प्रजाति के पेड़ हैं जिनका नाम नैरीफन है। इन्हीं पेड़ों में हरे रंग की चीजें उगती हैं जो दिखने में निर्वस्त्र महिला जैसी लगती है। हालांकि, इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है कि ये फल है या सब्जी।

इस विचित्र पेड़ के पीछे दो मान्यताएं हैं। कहा जाता है कि सदियों पहले भगवान इंद्र अपनी पत्नी और बच्चों के साथ इस जंगल में रहने आए थे। इसी जंगल में कई योगी भी तप करते थे। जप-ध्यान से उन्हें शक्तियां भी प्राप्त हो चुकी थीं, मगर वासना पर उनका काबू नहीं था। इसलिए अपनी पत्नी की रक्षा के लिए इंद्र देव ने नैरीफन के 12 पेड़ लगा दिए।

जब भी इंद्र देव की पत्नी घर से बाहर निकलती थीं, इन पेड़ों पर महिला की आकृति में विचित्र चीजें अपने आप उग जाती थीं ताकि योगियों का ध्यान भटक जाए और उनकी पत्नी पर किसी की नजर ना पड़े। कहा जाता है कि इन पेड़ों पर जिस लड़की की आकृति उगती है, वह भगवान इंद्र की पत्नी से हूबहू मेल खाती है।

 

 

नैरीफन पेड़ को लेकर एक और मान्यता है। थाईलैंड के निवासियों का कहना है कि इस पेड़ को भगवान बुद्ध ने हिमाफन के जंगलों में लगाया था। कहा जाता है कि जिस दिन धरती से भगवान बुद्ध के दिखाए राह पर लोग चलना बंद कर देंगे, उस दिन ये पेड़ भी लुप्त हो जाएंगे। बौद्घ धर्म के अनुसार वह दिन भगवान बुद्ध के निर्वाण के 5000 साल बाद आएगा। पेड़ पर ये फल सात दिनों के लिए उगते हैं। अगर किसी ने इन्हें तोड़ा नहीं तो ये खुद पेड़ से गिरकर नष्ट हो जाते हैं। कहा जाता है कि इन फलों में जादुई शक्ती होती है। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि इनमें आत्मा बसती है जो नाच-गा सकती है।

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like