Online India

OnlineIndia   2018-06-11

इस मंदिर में भगवान को होता है आने वाले संकट का आभास, करते हैं आगाह

OnlineIndia आस्था। देश के विभिन्न प्रान्तों में ऐसे कई सारे मंदिर, मजार, गुरूद्वारे हमें मिल जाएंगे जिन पर सदियों से लोगों की आस्था बनी हुई हैं। भारत में कई ऐसे धार्मिक स्थान है जो कि काफी पुराने होने के साथ ही अविश्वसनीय घटनाओं के चलते काफी प्रसिद्ध है। आज हम आपको एक ऐसे ही मंदिर के बारे में बता रहे हैं जिसके बारे में जानकर आप हैरान हो जाएंगे।
ये मंदिर हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में स्थित है। ये ब्रजरेश्वरी देवी मां का मंदिर है जहां देवी मां के साथ भैरव भी विराजित है। इस मंदिर की सबसे बड़ी खासियत ये है कि यहां भगवान निकट भविष्य में आने वाले किसी संकट के बारे में भक्तों को पहले से ही आगाह कर देते हैं। इस मंदिर के बारे में स्थानीय लोगों का ऐसा कहना है कि किसी आपदा के आने की जानकारी उन्हें पहले से ही मिल जाती है। जब भी कोई विपत्ति आने वाली होती है तो मंदिर में स्थित भैरव की मूर्ति की आंखों से आंसू और शरीर से पसीना आने लगता है।
यहां के स्थानीय लोगों का ऐसा कहना है कि उन्होंने खुद बात को कई बार परखा है। जब भी भैरव की मूर्ति से पसीना और आंसू आने लगते हैं तभी किसी न किसी समस्या का उन्हें सामना करना पड़ा है।
आपको बता दें ब्रजरेश्वरी देवी मां के इस मंदिर में स्थित भैरव की ये मूर्ति 5000 साल से भी ज्यादा पुरानी है। इसे यहां लोग लाल भैरव के नाम से जानते हैं। जब भी यहां भैरव आने वाले किसी मुसीबत का इशारा करते हैं तो यहां मंदिर के पंडित हवन पूजा द्वारा मां ब्रजरेश्वरी देवी से इस संकट को टालने की प्रार्थना करते हैं। मां की कृपा से आपदा दूर हो जाती है। यहां लोगों का इस मंदिर के प्रति गहरी श्रद्धा है। लोग दूर-दूर से यहां ब्रजरेश्वरी देवी और भैरव के दर्शन के लिए आते हैं।

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like