Online India

Pooja Sharma   2018-06-12

रायपुर में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, आपत्तिजनक अवस्था में मिले लड़के-लड़कियां

OnlineIndia रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के बोरियाकला इलाके में जिस्मफरोशी के मामले में आधा दर्जन लड़कियों को हिरासत में लिया गया है। सात ग्राहक भी पुलिस के हत्थे चढ़े हैं। हाई प्रोफाइल इलाके में छापेमारी करके पुलिस ने वेश्यावृति के धंधे में लिप्त कई लड़कियों और लड़को को निर्वस्त्र हालत में गिरफ्तार किया है।
गिरफ्तार लड़कियां मुंबई और कोलकाता की है। बताया जा रहा है कि सभी लड़कियां एक महीने के कांट्रेक्ट पर रायपुर आई थी। 28 दिन तो उनके गुलजार रहे, लेकिन आखिरी दिनों में वे ग्राहकों समेत पुलिस के हत्थे चढ़ गईं। ग्राहकों और लड़कियों दोनों के खिलाफ पुलिस ने पीटा एक्ट के तहत कार्रवाई की है। उन्हें जेल भेज दिया गया है।
मिली जानकारी के मुताबिक, रायपुर में बोरियाकला के हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में एक मकान पर पुलिस ने तड़के छापा मारा था। पुलिस की घेराबंदी इतनी कारगर थी कि कोई भी मौका-ए-वारदात से भाग नहीं पाया। आमतौर पर पिछली दो तीन छापामारी में आरोपी मौके का फायदा उठाकर चंपत हो जाते थे। लेकिन इस बार पुलिस काफी सतर्क थी।
पुलिस के मुताबिक, दलाल की तलाश की जा रही है। वह कोलकाता, मुंबई और दिल्ली से युवतियां बुलाकर जिस्मफरोशी का कारोबार चलाता था। मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर उसने देर रात अपना एक पाइंटर मौके पर भेजा था, लेकिन दलाल उसके हाथ नहीं लगा। झारखंड की एक महिला से दलाल के बारे में जानकारी मिली है।
यह महिला ही किराए के मकान में सेक्स वर्कर को शरण देती थी। फरार दलाल ने एक व्हाट्सऐप ग्रुप बनाया था। इस ग्रुप में नियमित ग्राहक जुड़े हुए थे। इसमें मुंबई, दिल्ली, कोलकाता समेत अन्य शहरों की युवतियों के फोटो और उनका रेट पोस्ट किया जाता था। ग्राहक को जो लड़की पसंद आ जाती, उसे बोरियाकला के इस ठिकाने पर बुलाया जाता था।
आपको बता दें कि पुलिस ने गिरफ्तार युवतियों के पास से 8 मोबाइल फोन, आपत्तिजनक सामग्री, शक्तिवर्धक टैबलेट, हिसाब-किताब करने वाली डायरी सहित 61 हजार रुपये जब्त किया है। इसके साथ ही वहां से गिरफ्तार सभी आरोपियों के खिलाफ पीटा एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए कोर्ट में पेश किया। वहां से कोर्ट ने सभी को जेल में भेज दिया है।

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like