Online Chhattisgarh

  2016-12-03

ज्यादा सोना खरीदने वालों पर आईटी कसेगी शिकंजा

-अधिक सोना मिलने पर 85 फीसदी होगा जब्त

Online CG Raipur | परिवार में शादीशुदा महिलाएं कितना सोना रखेंगी। अविवाहित महिलाओं को कितना सोना रखने का अधिकार है, और पुरूष अपने नाम से कितना सोना रख सकते हैं, यह तय करने के बाद आयकर विभाग ने अफसरों और इंस्पेक्टरों की टीमें बनानी शुरू कर दी हैं, जो अलग-अलग शहरों के सराफा बाजार में जाकर ऐसे लोगों की सूची बनाएंगी, जिन्होंने नोटबंदी के एक हफ्ते के भीतर काफी सोना खरीदा है। रायपुर, दुर्ग-भिलाई, बिलासपुर, रायगढ़, अंबिकापुर, कोरबा और जगदलपुर में इन टीमों को एक्टिव किया जाएगा। अफसर मान रहे हैं कि ज्वेलर्स से हर खरीदार की जानकारी नहीं मिल पाएगी, फिर भी जिनकी मिलेगी उन्हें नोटिस दिए जाएंगे। यही नहीं, जिनकी ज्यादा सोना खरीदने की सूचना मिलेगी,उनके यहां सर्वे या छापे भी प्लान किए जा सकते हैं। इस दौरान अगर किसी से निर्धारित लिमिट से ज्यादा सोना मिला, तो विभाग उसका 85 फीसदी जब्त कर लेगा। आयकर विभाग के अफसरों का कहना है कि सीबीडीटी के नियमानुसार कोई भी विवाहित महिला आधा किलो सोना, अविवाहित महिला एक पाव और पुरुष सौ ग्राम सोना रख सकते हैं। इस नियम में इन दिनों आंशिक संशोधन किया जा रहा है। आने वाले दिनों में नए नियम के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

                            घरों, प्रतिष्ठानों या फिर दफ्तरों में छापा या सर्वे के दौरान निर्धारित मात्रा से अधिक सोना मिलता है तो उसका कम से कम 85फीसदी से ज्यादा हिस्सा जब्त किया जा सकता है। कार्रवाई से बचने के लिए लोगों को बताना होगा कि सोना कहां से आया? अगर खरीदी की गई है तो महिलाओं को आय का स्त्रोत बताना होगा, उपहार में मिला है तो गिफ्ट डीड की जानकारी देनी होगी। ऐसा नहीं हुआ तो फिलहाल केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के नियमों के अनुसार कर दी जाएगी। बाद में इस कार्रवाई को सोने के बारे में बनाए जा रहे नए नियम के अनुरूप कन्वर्ट कर दिया जाएगा।

                        वर्ष 2015-16 में केंद्र सरकार ने वैल्थ टैक्स बंद कर दिया है। इसकी वजह से अब निर्धारित मात्रा से अधिक सोना मिलने पर उसे पहले की तरह टैक्स लेकर छोड़ा नहीं जा सकता है। उसके खिलाफ नियम के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। अफसरों ने बताया कि इसी आधार पर 85 फीसदी सोना जब्त करने का प्रावधान है।

                   अफसरों ने बताया कि नोटबंदी के बाद राजधानी समेत प्रदेश के प्रमुख शहरों में सोने की भारी मात्रा में खरीदी की सूचनाएं मिली हैं। ऐसे तमाम खरीदारों की जानकारी आयकर के इंस्पेक्टर जुटाएंगे। इन सूचनाओं की भी पड़ताल होगी कि कुछ कारोबारियों ने सोने के दाम अलग-अलग रखे थे। ये सभी मामले सूचीबद्ध करने के बाद कार्रवाई शुरू होगी।

आयकर अफसरों के मुताबिक एक सामान्य परिवार में पति-पत्नी, अविवाहित बेटी और बेटा हैं तो वह नए नियम के अनुसार 950 ग्राम (95 तोला) सोना रख सकता है। इसमें पत्नी के नाम पर 500 ग्राम, पति और बेटे नाम पर सौ-सौ ग्राम और बेटी के नाम पर 250 ग्राम तक सोने की छूट दी गई है।

You Might Also Like